What is Article 370 Kashmir Latest News In Hindi

0
623
what is dhara 370 jammu and kashmir news
what is dhara 370 jammu and kashmir news

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे। कि What Is Article 370, (Dhara 370 kya hai), जैसा कि आज राज्य सभा मे भारत के ग्रह मंत्री अमित शाह द्वारा राष्ट्रपति के आदेश से Jammu and kashmir को प्राप्त विशेष राज्य का दर्जा छीनने का ऐलान किया गया है। जिसमें उन्होंने कहा कि Article 370 के सभी खंड को लागू नही किया जाएगा। जिसमें खण्ड 1
बचा रहेगा। इसके साथ ही श्री शाह ने कहा कि Jammu and kashmir और लद्दाख  को भी अलग अलग किया जाएगा। जिसमें जम्मू – कश्मीर को एक अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाया जाएगा। और लद्दाख को एक अलग प्रदेश बनाया जाएगा। अब कई लोगों के मन मे यह सवाल होगा कि आखिर Dhara 370 kya hai ( What is Article 370 ), तो अब हम आपको बताते हैं कि धारा 370 क्या है।

Read Also – Friendship Day 2019 

What is Article 370

अब बात करते हैं कि धारा 370 क्या है? और इसको हटाने की क्या जरूरत है।  यह बात है 27 मई 1949 की जब जम्मू – कश्मीर की संविधान सभा ने 27 मई 1949 को  अनुच्छेद 306A ( जो अब धारा 370 है ) को स्वीकार कर लिया। जिसके बाद इस आर्टिकल को 17 अक्टूबर 1949 को भारतीय संविधान में शामिल कर लिया गया।

Article 370 के अनुसार भारतीय संसद Jammu and kashmir को लेकर कुछ सीमित क्षेत्र में ही कानून बना सकती है। जिसमें रक्षा, विदेश, और संचार शामिल हैं। इसके साथ ही देश के उच्च न्यायालय के सभी आदेश जम्मू – कश्मीर पर लागू नही होते थे। यदि केंद्र को कोई काननू लागू करना है तो इसके लिए  उसे पहले जम्मू – कश्मीर राज्य से सहमति लेना पड़ती थी। वित्तीय आपातकाल के लिए संविधान की धारा 360, और धारा 356 जम्मू कश्मीर पर लागू नही थी। राष्ट्रपति जम्मू – कश्मीर राज्य का संविधान भी बर्खास्त नही कर सकते थे।

Read Also – PM Modi latest speech सुरक्षा बालों को दी गयी पूरी छूट

Article 370 के कारण क्या होता था।

1. धारा 370 के कारण जम्मू – कश्मीर को एक विशेष दर्जा प्राप्त था। जिसके चलते कश्मीर राज्य पर धारा 356 लागू नही थी।
2. इस कारण जम्मू कश्मीर के लोगों को भारत और कश्मीर दोनो की नागरिकता प्राप्त होती थी।
3.जम्मू कश्मीर का राष्ट्र ध्वज अलग था। जिसके चलते वहां के लोगों को भारत के राष्ट्रीय ध्वज का सम्मान करना अनिवार्य नही था।
4. इसी धारा के चलते भारतीय नागरिकों को विशेष अधिकार प्राप्त राज्य में कही भी भूमि खरीदने का अधिकार नही था। जिसके चलते भारत के लोग जम्मू कश्मीर जाकर वहां कोई जमीन नही खरीद सकते हैं।
5. जम्मू कश्मीर की विधानसभा का कार्यकाल 6 वर्ष का होता है। जबकि भारत के बाकी राज्यों का कार्यालय 5 वर्ष का होता है।

Read Also – Instagram par Blog Promote kaise kare -10 tips

6. भारतीय संविधान की धारा 360 के अंतर्गत देश मे वित्तीय आपातकाल लगाने का प्रावधान है। जो कि कश्मीर पर लागू नही होता है।
7. जम्मू – कश्मीर की यदि कोई महिला भरतीय नागरिक से शादी कर लेती थी तो उसकी जम्मू – कश्मीर से नागरिकता समाप्त हो जाती थी। इसके ही विपरीत यदि कोई महिला पाकिस्तान के किसी नागरिक से शादी करती थी तो उसे भी जम्मू – कश्मीर की नागरिकता मिल जाती थी।
8. इसी धारा के कारण से पाकिस्तानियों को भी भारत की नागरिकता मिल जाती थी।
9. जम्मू कश्मीर में पंचायतो को अधिकार प्राप्त नही हैं।

Read Also – Raksha Bandhan Status in Hindi 2019

10. कश्मीर में article 370 के कारण RTI, और CAG जैसे कानून लागू नही हो पाते थे।
11. जम्मू – कश्मीर में काम कर रहे चपरासी को आज भी 2500 रुपये महीना मिलता है।
12. जम्मू – कश्मीर में अल्पसंख्यक हिन्दुयों और सिखों को 16% आरक्षण नही मिलता था।
13. जम्मू – कश्मीर में महिलाओं पर शरीयत कानून लागू होता था।

Conclusion

तो दोस्तों इस आर्टिकल में हमने बताया कि धारा 370 क्या है? ( What is article ), जिसमें हमने आपको विस्तार से बताया धारा 370 के बारे में। तो हम आशा करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इस आर्टिकल को Like करें ,इसे Share करें। और यदि आपके मन में कोई प्रश्न हो जो आप हमें पूछना चाहते हैं, तो नीचे कमेंट करके अवश्य बताएं।

इस वेबसाइट पर आने के लिए और इस आर्टिकल को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

You can also check our other articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here